dokdo

मटेरियल केंद्र

Dokdo, Beautiful Island of Korea

दोकदो पर कोरियन साम्राज्य का क्षेत्राधिकार

home > मटेरियल केंद्र > दोक्दो, कोरियन प्रायद्वीप में जापानी अधिक्रमण का पहला शिकार > दोकदो पर कोरियन साम्राज्य का क्षेत्राधिकार

print facebook twitter Pin it Post to Tumblr

ह्वांगसोंग शिनमुन

उलशीबोगोनैबू, 『ह्वांगसोंग शिनमुन』 (मई 9, 1906)

〔अनूदित लेख〕

उलशीबोगोनैबू (उल्दोमैजिस्ट्रेट द्वारा आंतरिक मामला, मंत्रालय को रिपोर्ट)
उल्दोशहर (उल्लुंग्दो) मैजिस्ट्रेट शिम हंग-थैक ने आंतरिक मामला मंत्रालय को रिपोर्ट सौंपी कि:

दोक्दो जो शहर के अधिकारक्षेत्र में है, समुद्र की तरफ 100 ली(39 कि.मी.) तक फैला है। इस महीने के चौथे दिन (मार्च 28), को एक जापानी अधिकारियों के समूह ने शहर के कार्यालय का दौरा किया और मनमाने तरीके से दावा किया “अब दोक्दोजापानी क्षेत्र होने जा रहा है, इसलिए हम क्षेत्र का निरीक्षण करने आए हैं।” इस समूह में ओकीद्वीप के मजिस्ट्रेट और शिमाने प्रांतके बुनस्खे हिगासी; सचिव योशिथारो जिनजाई; कर कार्यालयाध्यक्ष हेईगो योशिदा; पुलिस सब-स्टेशन के कप्तान गानफाछिरो गागेयामा; एक पुलिस, एक परिषद सदस्य; एक फिजिसियन; एक इंजीनियर और अन्य 10 लोग शामिल थे। उन्होंने मकानों की संख्या, जनसंख्या आकार, भूमि और फसल और साथ ही साथ कर्मचारी और बजट का भी पता लगाया। उन्होंने सामान्य सर्वेक्षण की तरह सूचना दर्ज किया और चले गए।

*ह्वांसोंग शिनमुन पहली बार 1898 में प्रकाशित हुआ था और 1910 में कोरिया पर जापानी कब्जा के तुरंत बाद बंद कर दिया गया।

〔मूल लेख〕

Original Text